Top 5 poet Summary of kubla Khan 

कवि कहता है कि कुबला खाँ की अन्य देशों पर जीत उसकी निरंकुश शासन के अधीन लोगों पर शासन करने की लालसा से जुड़ी थीं ।

चंगेज खाँ अत्याचारपूर्वक शासन करता था , अतः ऐसे शासन ने मतभेद और लोगों के विस्फोट को जन्म दिया है 

कुबला खाँ की बचपन में अंधी महत्वाकांक्षा थी बुद्ध करना , नरसंहार करना , विनाश , लोगों को उजाड़ना , बलवा करना , आबाद क्षेत्र को निर्जन करना और इस प्रकार एक साम्राज्य - एक अस्थायी साम्राज्य की स्थापना

उत्तेजना का यह नकारात्मक विस्फोट हम ' यासा ' में देखते हैं जो चंगेज खाँ द्वारा बनाया गया संविधान है जिसे बाद में उसके उत्तराधिकारियों ने चंगेज खाँ की कानून संहिता घोषित कर दिया गया ।

उनके मार्ग को कवि द्वारा “ घबराहट भरा भूल - भूलैया " कहा गया है । " कवि का विचार कितना मधुर है जब वह एक इथोपियन लड़की को राष्ट्रगीत वाद्ययंत्र पर । यह सूर्य के समान चमकीला आनंद का राज्य है ।

Learn more class 12 all subjects notes 👇